निजी स्कूलों में 26 जून तक छुट्टियां घोषित

News Desk

भोपाल
मध्यप्रदेश में नगर निकाय-पंचायत चुनाव (MP Panchayat Election)को देखते हुए स्कूलों (MP School) में छुट्टियां घोषित कर दी गई है। दरअसल स्कूल संचालकों (Private School) की तरफ से आई जानकारी के मुताबिक 26 तारीख को चुनाव (panchayat chunav) के प्रथम चरण की वोटिंग (first phase voting) संपन्न होने के बाद स्कूल की बसें वापस मिलेगी। जिसके बाद स्कूलों में नियमित कक्षा शुरू की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक राज्य निर्वाचन आयोग (state election commission) ने बड़े आदेश दिए हैं। जिसमें मध्य प्रदेश शासन के परिवहन विभाग ने स्कूल बसों (MP School Bus) का अधिग्रहण कर लिया है। MP स्कूल बसों का अधिग्रहण करने के बाद बच्चों को स्कूल लाने और पहुंचाने को लेकर समस्या उत्पन्न हो गई है। जिसके बाद प्राइवेट स्कूल संचालकों ने छुट्टी की घोषणा कर दी है।

वही त्रिस्तरीय चुनाव के लिए पहले चरण का मतदान 25 जून 2022 को होना है। 26 जून को स्कूल की बसें वापस मिलने की उम्मीद जताई गई है इससे पहले परिवहन विभाग (transport Department) द्वारा प्राइवेट स्कूल बसों का अधिग्रहण कर लिया गया है। 22 जून से बस परिवहन विभाग के कब्जे में रहेगी। जिसके कारण निजी स्कूलों में बसों का संचालन नहीं हो पाएगा। School संचालकों ने इसकी सूचना अभिभावक को दी है।

वहीं संचालकों का कहना है कि बसों को वापस मिलने तक बच्चों की Online Class से संचालित की जाएगी। स्कूल संचालकों की मानें तो 26 जून को स्कूल बजे वापस मिल जाएगी। जिसके बाद नियमित कक्षा शुरू की जाएगी। पिछले कुछ सालों से सरकारी व्यवस्थाओं में स्कूल बसों के अधिग्रहण की गतिविधियां बढ़ गई है। वहीं कई बार एंबुलेंस तक के रास्ते बदल दिए जा रहे हैं। जिससे चुनाव में किसी भी तरह की परेशानी उत्पन्न ना हो। ऐसे में अब स्कूली बच्चों को 26 जून तक ऑनलाइन कक्षाओं के जरिए अपनी पढ़ाई पूरी होगी। हालांकि 26 जून के बाद स्कूल फिर से खोले जा सकते हैं।

Next Post

नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में बैंक अधिकारी गिरफ्तार

जबलपुर  नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में पुलिस ने राष्ट्रीयकृत बैंक के सेवानिवृत्त अधिकारी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना सिविल लाइन थाना क्षेत्र की है। पुलिस ने बताया कि 10वीं कक्षा में अध्ययनरत 15 वर्षीय किशोरी ने घटना की एफआइआर दर्ज कराई थी। पुलिस के मुताबिक छात्रा के […]

कोरोना वाइरस के बारे में

भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रही है कि हम COVID 19 - कोरोना वायरस की बढ़ती महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे का सामना करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। भारत के लोगों के सक्रिय समर्थन के साथ, हम अपने देश में वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में सक्षम हैं। स्थानीय रूप से वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी की जा रही सलाह के अनुसार सही जानकारी के साथ नागरिकों को सशक्त बनाना और सावधानी बरतना है।